पोहा रेसिपी

Jan 27, 2023 - 15:04
Jan 26, 2023 - 14:35
 45
पोहा रेसिपी
पोहा रेसिपी

जैसे इडली और उपमा दक्षिण भारत के नाश्ते में परोसे जाने वाले पारंपरिक व्यंजन रहे हैं इसी तरह पोहा भारत के पश्चिमी राज्यों में सुबह के नाश्ते में परोसे जाने वाला एक लोकप्रिय पारंपरिक व्यंजन है। यह महाराष्ट्र में पोहे और गुजरात में पोहा के नाम से जाना जाता है और इसे बनाने के लिए चावल के पोहे मुख्य सामग्री है। क्योंकि इसमें कटा हुआ आलू भी डाला जाता है इसलिये यह आम तौर पर आलू पोहे (बटाटा पोहा) के नाम से भी जाना जाता है। इस रेसिपी में कैसे आसानी से घर पर पोहा बना सकते है यह स्टेप बाय स्टेप फोटो के साथ बताया गया है।

सामग्री:
2 कप मोटे पोहा
1 मध्यम प्याज, बारीक कटा हुआ (लगभग 1/3 कप)
1 छोटा आलू, छिला हुआ और बारीक़ कटा हुआ (लगभग 1/2 कप)
1/3 टीस्पून राई (सरसों के बीज)
1/2 टीस्पून जीरा
8-10 करी पत्ते
1 हरी मिर्च, बारीक कटी हुई
1 चुटकी हींग, वैकल्पिक
1½ टेबलस्पून मूँगफली के दाने
1/4 टीस्पून हल्दी पाउडर
1½ टीस्पून नींबू का रस
1/2 टेबलस्पून चीनी
1 टेबलस्पून कसा हुआ नारियल, वैकल्पिक
नमक स्वाद अनुसार
2 टेबलस्पून तेल
1/4 कप अनार के बीज, वैकल्पिक
2 टेबलस्पून बारीक कटा हुआ हरा धनिया

विधि:

पोहा को एक बड़ी छलनी में ले।

उसे नल के नीचे रखे और बहते हुए पानी में 1-2 बार धो लें (या तो 1-2 गिलास पानी उसके ऊपर डालें)। अतिरिक्त पानी निकाल दें। उसके ऊपर नमक और चीनी छिड़के और अच्छी तरह से मिलाकर एक तरफ रख दें।

एक कड़ाही में 2-टेबलस्पून तेल गरम करें। राई डालें; जब राई फूटने लगे तब जीरा, हरी मिर्च, करी पत्ता, मूंगफली और एक चुटकी हींग डालें। मिर्च कुरकुरी होने लगे तब तक लगभग 30-40 सेकंड के लिए पकने दें।

कटा हुआ प्याज डालें और उसे हल्के गुलाबी रंग का होने तक भूने।

कटा हुआ आलू और नमक (केवल आलू के लिए नमक डालें) डालें।

अच्छी तरह से मिला लें और ढककर आलू नरम होने तक पकने दे। इस में लगभग 3-4 मिनट का समय लगेगा। उसे चिपकने से रोकने के लिए कभी कभी बीच में चमचे से हिलाते रहो।

हल्दी पाउडर डालें।

अच्छी तरह से मिला ले और एक मिनट के लिए पकने दें।

भिगोये हुए पोहा डालें।

अच्छी तरह से मिलाएं।

2-3 मिनट के लिए पकने दें। नींबू का रस, सूखा कसा हुआ नारियल और बारीक कटा हुआ हरा धनिया डालें।

अच्छी तरह से मिला ले और गैस बंद कर दें। आलू पोहा परोसने के लिए तैयार है।

सुझाव और विविधता:

पोहा को पानी में डुबो के मत रखे। उन्हें अच्छी तरह से पानी से धो ले और अतिरिक्त पानी निकाल दें (बड़ी छलनी का इस्तेमाल करें)।
अगर आपके पास छलनी नहीं है तो पोहे के ऊपर थोड़ा पानी छिड़के। अतिरिक्त पानी का उपयोग न करें। भिगोने के बाद, पोहा में नमी होनी चाहिए लेकिन गीले नहीं होने चाहिए।
मोटे पोहे का उपयोग करें। बहुत पतले पोहे का उपयोग न करे। आप भूरे रंग के चावल के पोहा का उपयोग भी कर सकते हैं।


अपनी पसंद के हिसाब से चीनी की मात्रा बदलें। महाराष्ट्रियन आलू पोहे में हल्की मिठास होती है, जबकि गुजराती बताता पोहा में थोड़ी ज्यादा चीनी डलती है।
अगर आप बच्चो के लिए पोहा बना रहे है तो उसमे कटा हुआ गाजर, हरी मटर के दाने और कटी हुई शिमला मिर्च डालें।
विविधता के लिए पोहा को 1/4 कप अनार के बीज और सेव से सजाये।

परोसने के तरीके:पोहा को जब नाश्ते में चाय के साथ परोसा जाता है तब बढ़िया स्वाद आता है। यह बच्चो के लंच बॉक्स में पैक करने के लिए भी एक बढ़िया नाश्ता है।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow

Sujan Solanki Sujan Solanki - Kalamkartavya.com Editor