फ़िलीपीन्स दक्षिण-पूर्व एशिया में स्थित एक देश

Jan 12, 2023 - 13:09
Jan 12, 2023 - 09:32
 7
फ़िलीपीन्स दक्षिण-पूर्व एशिया में स्थित एक देश
फ़िलीपीन्स दक्षिण-पूर्व एशिया में स्थित एक देश

फ़िलीपीन्स दक्षिण-पूर्व एशिया में स्थित एक देश है। इसका आधिकारिक नाम 'फ़िलीपीन्स गणतंत्र' है और राजधानी मनीला है। पश्चिमी प्रशांत महासागर में स्थित ७१०७ द्वीपों से मिलकर यह देश बना है। फ़िलीपीन द्वीप-समूह पूर्व में फ़िलीपीन्स महासागर से, पश्चिम में दक्षिण चीन सागर से और दक्षिण में सेलेबस सागर से घिरा हुआ है। इस द्वीप-समूह से दक्षिण पश्चिम में देश बोर्नियो द्वीप के करीबन सौ क़िलोमीटर की दूरी पर बोर्नियो द्वीप और सीधे उत्तर की ओर ताइवान है। फ़िलीपीन्स महासागर के पूर्वी हिस्से पर पलाऊ है।

पूर्वी एशिया में दक्षिण कोरिया और पूर्वी तिमोर के बाद फ़िलीपीन्स ही ऐसा देश है, जहां ज्यादातर लोग बौद्ध धर्म के अनुयायी हैं। ९ करोड़ से अधिक की आबादी वाला यह विश्व की 12 वीं सबसे अधिक जनसंख्या वाला देश है। यह देश स्पेन (१५२१ - १८९८) और संयुक्त राज्य अमरीका (१८९८ - १९४६) का उपनिवेश रहा और फ़िलीपीन्स एशिया में 13th सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है।

इतिहास

मानव जीवाश्म का मिलना यह बताता है कि फ़िलीपीन्स में हजारों साल पूर्व इंसान बसते थे। ८वीं शताब्दी में चीनी व्यापारियों का आगमन हुआ। शक्तिशाली बौद्ध साम्राज्यों के उदय के कारण इण्डोनेशिया द्वीप समूह, भारत, जापान और दक्षिण-पूर्व एशिया के साथ व्यापार शुरू हुआ।

१६वीं शताब्दी में स्पैनिश लोगों ने इस द्वीप पर दावा किया और इसे बसाया। उन्होंने इसका नाम राजा फिलिपे द्वितीय के नाम पर 'फ़िलिपिनस' रखा। रोमन कैथोलिक धर्म का भी तुरंत प्रचार किया जाने लगा। फ़िलीपीन्स पर नये स्पेन (मैक्सिको) से शासन किया जाने लगा। १९वीं शताब्दी में फ़िलीपीन्स के बंदरगाहों को विश्व व्यापार के लिए खोल दिया गया। महत्वाकांक्षी और ज्यादा राष्ट्रवादी, फिलिपीन मध्यम वर्ग और चीनी मेस्तिजो समुदाय के उदय ने स्पैनिश साम्राज्य के खिलाफ विद्रोह की शुरुवात की। प्रोपगैंडा आन्दोलन के कारण, स्पैनिश साम्राज्यवादी सरकार के अन्याय के बारे में ये जागरूक हो गये और स्वतंत्रता की माँग करने लगे। १८९६ में फिलीपीन क्रांति की शुरुवात हो गयी। १८९८ तक क्रांतिकारी स्पैनिश सरकार को बाहर करने में लगभग सफल हो गये थे।

उसी वर्ष, १८९८ में, स्पैनिश-अमेरिकन युद्ध छिड़ गया, जिसमें स्पेन ने संयुक्त राज्य अमेरिका को फ़िलीपीन्स २ करोड़ यू.एस.डॉलर में दे दिया| हालाँकि, फ़िलीपीन्स ने उसी वर्ष अपनी स्वतंत्रता घोषित कर दी, पर संयुक्त राज्य अमेरिका अपना दावा जताता रहा, इस कारण फिलिपीन-अमेरिकन युद्ध छिड़ा| यह औपचारिक रूप से १९०१ में समाप्त हो गया था, लड़ाई १९१३ तक चलती रही| १९१४ में, भविष्य में स्वतंत्रता देने के वादे के बाद हालत कुछ ठीक हुए| १९३५ में, फ़िलीपीन्स को अमेरिकी राष्ट्रमंडल का दर्जा दे दिया गया, जिससे इसे अधिक स्वायत्तता मिल गयी।

४ जुलाई १९४६ में द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद इसे पूर्ण स्वतंत्रता मिल गयी।

भूगोल

फ़िलीपीन्स एक द्वीपसमूह है, जिसमें ७,१०७ द्वीप हैं। इसका कुल भू क्षेत्रफल, अंतर्देशीय जल निकाय मिलाकर, लगभग ३,००,००० वर्ग किलोमीटर है। इसकी ३६,२८९ कि॰मी॰ लंबी तटरेखा के कारण, यह विश्व का पांचवां सबसे लंबी तट रेखा वाला देश है। अधिकतर पहाड़ी द्वीप ज्वालामुखीय मूल के हैं और उष्णकटिबंधीय वर्षावनों से ढंकें हुए हैं। सबसे ऊँची चोटी माउंट आपो है। यह समुद्र तल से २,९५४ मी.(९,६९२ फीट) ऊपर है। कैगयान नदी फ़िलीपीन्स की सबसे बड़ी नदी है।

ज्वालामुखीय प्रकृति के कारण यहाँ खनिज भंडार बहुतायत में हैं| एक अनुमान के अनुसार फ़िलीपीन्स में दक्षिण अफ्रीका के बाद दूसरा सबसे बड़ा सोने का भंडार और विश्व का सबसे बड़ा तांबे का भंडार है| इसके आलवा निकल, क्रोमाइट और जस्ता में भी समृद्ध है| भू-तापीय ऊर्जा, जो ज्वालामुखीय गतिविधियों का एक अन्य उत्पाद है, इसे फ़िलीपीन्स ने अच्छी तरह उपयोग किया है| फ़िलीपीन्स, संयुक्त राज्य अमेरिका के बाद, विश्व का दूसरा सबसे बड़ा भू-तापीय ऊर्जा उत्पादक है|

अर्थव्यवस्था

फ़िलीपीन्स की राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था दुनिया की 29वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। 2018 में फ़िलीपीन्स का सकल घरेलू उत्पाद $354 Billion है। फ़िलीपीन्स के प्राथमिक निर्यात हैं: सूचालक पदार्थ, इलेक्ट्रोनिक उत्पाद, कपड़े, तांबे के उत्पाद, पेट्रोलियम पदार्थ, नारियल तेल, फल एवं मोबाइल कम्पयुटर और मोबाइल कम्पयुटर में लगने वाली चिप है। फिलीपींस के नागरिक हार्ड डिस्क बनाने में भी माहिर हैं। और फिलीपींस से इन चीजों का संयुक्त राज्य अमेरिका, जापान, चीन, सिंगापुर, नीदरलैंड, दक्षिण कोरिया, हांगकांग, जर्मनी, ताईवान आदि देशों में आयात निर्यात होता है। फिलीपींस दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था है और फिलीपींस का ग्रोथ रेट 8.8% है ।

फ़िलीपीन्स एक नये औद्योगिक राष्ट्र के रूप में उभर रहा है| फिलिपीन अर्थव्यवस्था, खेती पर आधारित अर्थव्यवस्था से सेवा और विनिर्माण पर आधारित अर्थव्यवस्था में परिवर्तित हो रही है और मोबाइल कम्प्यूटर और चिप इस अर्थव्यवस्था के मूल हैं | देश की कुल ३.८१ करोड़ श्रम शक्ति में से, 65% लोग खेती में, औद्योगिक में 22 % सेवा क्षेत्र में 5% लोग कार्यरत हैं और अन्य सभी कार्य में 8 % लोग कार्यरत हैं |

फ़िलीपीन्स, विश्व बैंक, विश्व व्यापार संगठन, अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष, जी-७७ जैसे संगठन और संस्थाओं का सदस्य है| एशियाई विकास बैंक का मुख्यालय फ़िलीपीन्स के मंडालुयोंग शहर में है|

भाषा

ऍथनोलॉग के अनुसार फ़िलीपीन्स में १७५ भाषाएँ हैं, जिनमें से १७१ भाषाएँ जीवित हैं और अन्य ४ भाषाओं को बोलने वाले लोग नहीं बचे| ये भाषाएँ ऑस्ट्रोनेशियाई भाषा परिवार की सदस्य हैं।

१९८७ के, फिलिपिनो संविधान के अनुसार फ़िलिपीनो और इंग्लिश राजभाषा हैं। फ़िलिपीनो टागालोग भाषा का प्रचलित रूप है, जो मुख्यतः मेट्रो मनीला एवं अन्य शहरी क्षेत्रों में बोली जाती है। फ़िलिपीनो और इंग्लिश दोनों ही शासकीय कार्यों, समाचार पत्रों, शिक्षा, सूचना प्रसारण एवं व्यापार में प्रयोग की जाती हैं। संविधान ने, क्षेत्रीय भाषाएँ जैसे सेबुआनो, इलोकानो, हिलिगेनॉन, टागालोग आदि को सहायक राजभाषा के रूप में निर्दिष्ट किया है।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow

Sujan Solanki Sujan Solanki - Kalamkartavya.com Editor