आलू की सब्जी (बटाटा नु शाक) रेसिपी

Jan 25, 2023 - 15:01
Jan 25, 2023 - 15:02
 13
आलू की सब्जी (बटाटा नु शाक) रेसिपी
आलू की सब्जी (बटाटा नु शाक) रेसिपी रेसिपी

हर गुजराती थाली में एक आम सब्जी होती है, आलू की सब्जी (बटाटा नु शाक)। यह आलू की तरी वाली (ग्रेवी वाली) पारंपरिक गुजराती सब्जी है जो अक्सरपुरीयाथेपलाके साथ खाने में परोसी जाती है। इसे घर पर बनाना बहुत ही आसान है। तो आईये आज हम आलू की सब्जी बनाना सीखते हैं।

सामग्री

2½ कप छिले और कटे हुए आलू के टुकड़े
14 टीस्पून राई (सरसों के बीज)
12 टीस्पून जीरा
2 टीस्पून हरी मिर्च-अदरक का पेस्ट
1 टमाटर, कटा हुआ
1 चुटकी हींग
12 टीस्पून हल्दी पाउडर
1 टीस्पून लाल मिर्च पाउडर
2 टीस्पून धनिया-जीरा पाउडर
1 टीस्पून चीनी (वैकल्पिक)
2 टेबलस्पून तेल
1½ टेबलस्पून ताजा हरा धनिया, कटा हुआ
1¼ कप पानी
नमक

विधि

एक भारी तले वाली कड़ाही में मध्यम आंच पर तेल गरम करें। उसमे राई (सरसों के बीज) डालें; जब वे फूटने लगे तब उसमें जीरा, हींग और हरी मिर्च-अदरक का पेस्ट डालें। अच्छी तरह से मिला लें।

आलू के टुकड़े डालें और 3-4 मिनट के लिए भूने।

कटा हुआ टमाटर, नमक और चीनी डालें और 3 मिनट के लिए भूने।

लाल मिर्च पाउडर और हल्दी पाउडर डालें और 1 मिनट के लिए भूने।

1¼ कप पानी डालें और मध्यम आंच पर मिश्रण को उबालें। जब यह उबलने लगे तब, आंच को कम कर दे और मध्यम आंच पर ढककर पकने दे, हर 4-5 मिनट पे उसे चमचे से हिलाये।

इसे पूरी तरह से पकने में लगभग 10-15 मिनट का समय लगेगा। यदि आवश्यक हो तो अधिक पानी डालें और कुछ और मिनट के लिए पकने दें। (पकाने का समय और पानी आलू के प्रकार और पैन की मोटाई के अनुसार भिन्न हो सकते हैं।)

धनिया-जीरा पाउडर डालें, मिश्रण को अच्छी तरह से मिला लें। गैस बंद करें। सब्जी को हरे धनिया से सजाये। आलू की सब्जी परोसने के लिये तैयार है।

सुझाव और विविधता

आप आलू को छिले बिना भी यह सब्जी बना सकते है।
इसे अधिक मसालेदार और खुशबूदार बनाने के लिए 1 टीस्पून कसा हुआ लहसुन डालें।
अगर आपको सब्जी का हल्का मीठा स्वाद पसंद नहीं है तो चीनी मत डालें।

परोसने के तरीके: आलू करी को (सब्जी को) गर्म फुल्का रोटी या चपाती के साथ दोपहर के भोजन में परोसा जा सकता है। यह उबले हुए चावल, पापड़ और दही के साथ भी बढ़िया लगती है।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow

Sujan Solanki Sujan Solanki - Kalamkartavya.com Editor